Track Nation Next on Social Media

Nagpur News Social

Lift restrictions: NVCCs demand to Fadnavis in Nagpur

A delegation of the Nag-Vidarbha Chamber of Commerce (NVCC), on Saturday, met former Chief Minister of Maharashtra and the current Leader of Opposition (LoP) in State Assembly, Devendra Fadnavis, in Nagpur.
The delegation requested Fadnavis to ease out the restrictions imposed on restaurants, marriage lawns, hotels and other places of public ceremonies.
In a social media post, Fadnavis shared a few pictures of the meeting and wrote, Delegation of Nag-Vidarbha Chamber of Commerce (NVCC) met me at Nagpur & submitted a memorandum demanding the lifting of restrictions on restaurants, banquets, marriage lawns, other traders while maintaining logical balance between health & economy.

NVCC President Ashwin Mehadia exclusively spoke to Nation Next on the matter and said, We met Devendra ji and Nitin Raut sir (Guardian Minister of Nagpur) and expressed our concerns on the timings, according to which, we have been asked to operate. We demand that Nagpur should be brought under L1 category of ?unlock. The current timings are inviting unnecessary chaos and crowd.
Devendra ji has assured us that he will speak to CM Uddhav Thackeray regarding this situation. Nitin Raut sir said that he will review the situation on Monday, he added.

Established in 1944, NVCC is an apex trade body of traders & their association from Vidarbha, Maharashtra.
Amid the COVID-19 pandemic, restaurants are allowed to operate within 50% of the capacity; after 4 pm only take-outs are allowed.
Marriage halls, banquets, hotels and other places capable of holding public functions are asked to operate under COVID norms by the state authorities.
However, as daily COVID cases in Maharashtra are declining, business associations like NVCC are now demanding to ease out the restrictions.
If done, they could make up for the loss suffered during early stages of nation-wide lockdown due COVID-19.

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Nagpur News

November 30, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Published

on

By

Avani Arya | Nagpur

Nation Next Nagpur Bulletin brings to you a summary of major news events that took place in Nagpur on November 30, 2022.

1. मुंबई में हुई cabinet की meeting में प्रधानमंत्री आवास योजना के beneficiaries को सिर्फ 1 हजार रुपए में रजिस्ट्री करने का decision लिया गया है. नागपूर के mla कृष्णा खोपड़े ने यह मांग की थी.mla खोपड़े के मुताबिक़ कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री आवास योजना के beneficiaries ने उनसे मुलाक़ात की थी और 1 हजार रुपए में रजिस्ट्री कराने की व्यवस्था करने की मांग की थी. इसके बाद खोपड़े ने 6 september 2022 को Revenue Minister राधाकृष्ण विखे पाटिल को letter लिखा और बाद में 11 नवंबर को deputy cm फडणवीस को letter दिया. इस दौरान letter में यह कहां गया कि जैसे झोपड़पट्टी के लोगों को फ्री में रजिस्ट्री की व्यवस्था की गई है, उसी तरह प्रधानमंत्री आवास योजना के beneficiaries को हजार रुपए में रजिस्ट्री करने की व्यवस्था की जाए. इस मांग को state government ने मान लिया है.

2. आपने नागपुर शहर में देखा होगा की कुछ महीने पहले बनी सीमेंट roads को नल के पाइपलाइन और गटर line के काम के लिए तोड़ा जा रहा है. इसके विरोध में बुधवार 30 नवंबर को युवक कांग्रेस ने प्रोटेस्ट किया. ‘ घंटा बजाओ, नागपुरवासियों का टैक्स बचाओ ‘ के नाम से यह प्रोटेस्ट किया गया. बंटी शेलके के lead में इस प्रोटेस्ट में नागपुर Municipal Commissioner राधाकृष्णन बी, cm एकनाथ शिंदे और Deputy CM फडणवीस के मास्क पहनकर प्रोटेस्ट किया गया.

3. नागपुर के गिट्टीखदान पुलिस स्टेशन के तहत आनेवाले बोरगांव दिनशॉ फैक्ट्री के सामने वाली बस्ती में 3 महिलाओ के साथ मारपीट का video वायरल हो रहा है. यह घटना शुक्रवार 25 नवंबर की है. इस मामले में आम आदमी पार्टी के लोगों ने पुलिस स्टेशन पहुंचकर आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है. आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओ के मुताबिक़ पुलिस ने अब तक किसी पर भी कोई concrete कार्रवाई नहीं की है. जबकि अलका उईके नाम की महिला के साथ बहोत ज्यादा मारपीट आरोपी चंदन सडमाके ने की है. जानकारी के मुताबिक़ जिनके साथ मारपीट हुई है वो 3 महिलाएं जब गिट्टीखदान पुलिस स्टेशन पहुंची तो सिर्फ एक महिला की complaint ली गई. इस मामले में 354 के तहत अपराध दर्ज होता है, लेकिन पुलिस महिला से कह रही है कि हमने उसको समझा दिया है, अब वो कुछ नहीं करेगा. video में देख सकते है कि एक आदमी महिला के साथ किस तरह से मारपीट कर रहा है. जानकारी के अनुसार इसमें पुलिस ने सिर्फ nc मामला दर्ज किया है. देखने में आया है की शहर पुलिस की इसी लापरवाही के चलते कई बड़े -बड़े हादसे बाद में होते है. समय रहते पुलिस किसी भी मामले में सख्त कार्रवाई करे, तो सामने होनेवाले serious crime को रोका जा सकता है.

4. नागपुर के सदर में Bishop Cotton स्कूल में बुधवार को स्कूल के खिलाफ parents ने नाराजगी जाहिर की . बुधवार 30 नवंबर को सुबह ही parents स्कूल के सामने जमा हो गए. parents ने स्कूल की headmistress शुभदा टिमोथी के खिलाफ नाराजगी की है और parents का यह कहना है कि इनकी appointment ही illegal तरीके से हुई है .कुछ दिन पहले parents ने स्कूल की headmistress के खिलाफ नागपुर के Education Officer को भी written complaint दी है. parents का कहना है कि स्कूल headmistress का बर्ताव parents और management के साथ बिलकुल भी अच्छा नहीं है. parents के साथ उन्होंने कई बार arrogantly बात की है. parents ने यह मांग की है कि स्कूल की CBSE की principal maudlin तिवसकर को nursery से लेकर 12th तक का स्कूल का पूरा चार्ज दिया जाए. parents का कहना है की headmistress टिमोथी के कारण उनके बच्चों की study का नुक्सान हो रहा है. आज parents ने school के management से बात की और उन्हें अपनी problems बताई.

5.  29 नवंबर को नागपूर के मेडीकल कॉलेज में ragging का एक मामला सामने आया है. जिसमें 6 students के खिलाफ कार्रवाई करके उनकी Internship cancel की गई है. इसके साथ ही इन students के खिलाफ पुलिस में complaint दर्ज की गई है. जानकारी के अनुसार mbbs के first year students के साथ ragging का video सामने आने के बाद कॉलेज में सनसनी मच गई थी. इसके बाद central ragging commitie ने इस मामले में मेडीकल कॉलेज को complaint करते ही यह कार्रवाई की गई. दरअसल मेडीकल administration को central ragging commitie की ओर से एक video mail किया गया था., जिसमे 6 intern students mbbs के एक first year student की ragging कर रहे थे. इस वीडियो के मिलने के बाद मेडीकल administration ने तुरंत एक meeting ली और investigation के order दिए. investigation में पता चला कि video सही है. इन students को hostel से भी बाहर कर दिया गया है. कल रात तक यह कार्रवाई जारी थी.

6. रेलवे पार्सल department की ओर से सामान इस शहर से दूसरे शहर भेजा जाता है. कई बार रेलवे कर्मचारी और मजदुर इसमें काफी लापरवाही करते है, कई लोगों के महंगे -महंगे सामान भी रेलवे मजदूरों के उठाने और रखने से टूट जाते है. लेकिन रेलवे department इन गैरजिम्मेदार मजदूरों और रेलवे कर्मचारियों पर किसी भी तरह की कोई कार्रवाई नहीं करता है. ऐसा ही एक मामला मंगलवार 29 नवंबर को सामने आया है. दरअसल एक व्यक्ति ने नागपूर से अपने बेटे के लिए moped लातूर के लिए भेजी थी , लेकिन इसको लातूर में न उतारते हुए इसको कोल्हापुर में उतारा गया. जिसके कारण इस व्यक्ति को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. जानकारी के मुताबिक़ गणेशपेठ में रहनेवाले m. अग्रवाल ने एक moped 24 नवंबर को नागपुर के पार्सल department से महाराष्ट्र एक्सप्रेस में लातूर भेजी थी, उनका बेटा वहां पढ़ाई कर रहा है. लेकिन लातूर पहुंचने के बाद इसको लातूर में नहीं उतारा गया. जब मोपेड नहीं मिली तो बेटे ने अपने पिता को फ़ोन पर जानकारी दी.इसके बाद अग्रवाल ने जब पता किया तो उन्हें पता चला की मोपेड कोल्हापुर पहुंच गई है. रेलवे ने अग्रवाल को यह जानकारी दी की लातूर में ट्रेन से नीचे मोपेड उतारनेवाला कोई नहीं था. इसके बाद यह भी कहां गया कि अगर फिर से लातूर में कोई मोपेड उतारनेवाला नहीं मिला तो मोपेड वापस आएगी. अग्रवाल ने strict होकर गाडी उतारने को कहा, उन्होंने railway helpline पर complaint भी की, इसके बाद मोपेड को लातूर में उतारा गया. रेलवे के पार्सल department की लापरवाही के कारण कई लोगों को रोजाना ही mentally और physically harrass होना पड़ता है. कई मामले सामने आते है तो कई मामले सामने ही नहीं आते है.

Script by – Shamanand Tayde

Also Watch: November 28, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Continue Reading

Nagpur News

Narayana Vidyalayam in Nagpur adopts blue bull for conservation, protection of wildlife

Published

on

By

Avani Arya | Nagpur

Narayana Vidyalayam has pioneered in the efforts to conserve and protect the wild life. This year in one of such endeavours, Narayana Vidyalayam has adopted a Blue Bull from Maharajbag Zoo, Nagpur for eighth consecutive year.

This gesture will definitely sow the seeds of wild life conservation and protection in the minds of students. The Maharajbag Zoo authorities presented an appreciation certificate to Principal Madam, Rekha Nair for the kind gesture.

Zoo Controller Dr Katkar, Officer Incharge Dr Sunil Bawaskar, Veterinary Officer Dr Abhijit Motghare, Mahesh Pande, Jay Darwade and zoo staff were present for this blue bull Adoption programme. Poonam Karunakaran , Pooja Shaw, Titiksha Soni and Mohan Joshi accompanied few students of class 8 and 9 who expressed their candid views about the importance of conservation of animals.

Also Read: PM Narendra Modi likely to visit Nagpur on December 11

Continue Reading

Nagpur News

PM Narendra Modi likely to visit Nagpur on December 11

Published

on

By

Radhika Dhawad | Nagpur
Prime Minister Narendra Modi is likely to visit Nagpur on December 11 for the inauguration of Nagpur-Mumbai Samruddhi Mahamarg.

Narendra Modi

Prime Minister Narendra Modi is likely to visit Nagpur on December 11 this year for the inauguration of Nagpur-Mumbai Samruddhi Mahamarg (also known as Hinduhriday Samrat Samruddhi Mahamarg) and first phase of Nagpur Metro.

When Nation Next spoke to Pravin Datke, Nagpur District BJP Chief, he said, “As of now he’s likely to visit Nagpur for the inauguration of the expressway and metro. However, we haven’t received any official confirmation on the same.”

The 701-km long Samruddhi Expressway will connect 10 districts namely Nagpur, Wardha, Amravati, Washim, Buldhana, Jalna, Aurangabad, Nashik, Ahmednagar and Thane, 26 talukas, and 392 villages of Maharashtra.

When fully operational, the expressway will reduce the travel time between Nagpur and Mumbai by half – from 16 to eight hours.

Also read: Tata Sons, Singapore Airlines to merge Vistara, Air India by March 2024

Continue Reading
Advertisement
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x