Track Nation Next on Social Media

Nagpur News Social

International Women’s Day: Jijauchya Waghini – a group which is teaching Nagpur girls the art of self-defense

Vaishnavi Thakur (1)
Vaishnavi Thakur displays her self-defense skills. (Photo by: Harish Nimje)

At a time where cases of crime against women are increasing throughout the country, it has become necessary for girls to be able to fight back and defend themselves in the case of eve teasing and molestation. Keeping this in mind  – ‘Jijauchya Waghini’ – a group led by the members of Nagpur dhol tasha pathak ‘Shivagya Pratishthan Mardani Talim Pathak has started teaching martial arts and defense techniques to enable young girls to safeguard themselves from these social evils. ‘Jijauchya Waghini’ literally translates into – ‘Jija Mata’s (Chhatrapati Shivaji’s Maharaj’s mother) Tigresses’. On International Women’s Day, Nation Next tells you ‘Jijauchya Waghini’ which is ensuring the safety of women in their own way?

Need to fight back!

Jijauchya Waghini was started in December 2016 after a young girl from the ‘Shivagya Pratishthan Mardani Talim Pathak along with her friends was eve teased near Futala lake, Nagpur. Sonal Deshmukh, a 25-year-old, while narrating the incident says, Around five months back my friends and I were near Futala on our respective two-wheelers. Two boys on a bike started following us and the guy riding pillion passed lewd comments. They continued doing this for a while. We finally decided to teach them a lesson and stopped them at Dharampeth. I got off from my bike and slapped the guy riding pillion. After that, a lot of people gathered at the spot and thrashed those boys. It was then when I realised how important it is for girls to be able to protect themselves during such dangerous situations.

Jhanvi Lonare (2)
Jhanvi Lonare during a training session. (Photo by: Suyash Sethiya)

More power to girls

Speaking to Nation Next about Jijauchya Waghini, Ritesh Balwaik – the head of ‘Shivagya Pratishthan Mardani Talim Pathak’ – says, Sonal’s experience and the similar cases of increasing crime against women led to the formation of Jijauchya Waghini. Through this group, we intend to develop a platform for the girls, where they can learn martial arts and simple but effective techniques for their self-defense. It is a platform aimed at making girls completely self-dependent in terms of safety.” Speaking further about the group’s future plans, Ritesh says, “We want to create a large brigade of well trained and brave girls for handling dangerous situations. To spread the awareness about the ?Jijauchya Waghini, contact numbers of our girl representatives will be listed in Nagpur colleges along with the our banners. We have also requested college girls to add our representative’s contact number on their Whatsapp group so that if any boy misbehaves with the girls, our representatives can go and teach him a lesson. In addition to this, we have decided to organise workshops for the city college girls through which they can learn the self-defense techniques.

Free for all

At present around fifty Nagpur girls are taking self defense and martial arts training from trainers – Mangesh Karole and Chetan Bhonsle – at Jijauchaya Waghini. These girls are being taught the techniques of spear and sword fighting and to fight with simple things like a ladies scarf and bamboo sticks. The registration is free for all girls. At present the training sessions are being held at Reshimbagh and Gadikhana ground in the evening hours. Any girl who wishes to take the self-defense training from Jijauchya Waghini group can contact on .

Continue Reading
Click to comment
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Nagpur News

Rotary Club of Nagpur with ‘warm hearts’ donates thousands of winter necessities

Published

on

By

Avani Arya | Nagpur

Rotary club of Nagpur vision,  in association with the urban and rural police department of Nagpur began their project ‘warm hearts’ for the sixth year.

In the presence of Nagpur Rural police Additional SP Dr Sandeep Pakhale, Dy SP home Mr Nikam and in-charge of various police stations from Nagpur, more than 1000 blankets, 500 woolen socks and 500 woolen caps were handed over. PP Rajiv Behal gave a small history citing on how the project reached such a huge level in a small time.

President Shivani Sule welcomed the police personnel with floral bouquets. Additional SP Dr. Pakhale thanked the club for the generous gesture and promised to look into other avenues where the police department can work in tandem with the club. Director Sandeep Durugkar proposed the vote of thanks with a special mention of SP Nagpur Rural Vishal Anand for his association with this project and also promised on behalf of RCNV to continue this association with police personnel for the coming years too.

Also Read: Amitabh Bachchan’s Jhund co-star from Nagpur ‘Babu Chhetri’ arrested for theft

Continue Reading

Nagpur News

November 25, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Published

on

By

Avani Arya | Reporter : Shamanand Tayde | Nagpur

Nation Next Nagpur Bulletin brings to you a summary of major news events that took place in Nagpur on November 25, 2022.

1. मंगलवार 22 नवंबर को कामठी के पास  महसाला में Marie Poussepin  Academy  स्कूल के सामने ही  स्कूल के बस driver अंबादास रामटेके ने लापरवाही से बस चलाते हुए 8th क्लास में पढ़नेवाले student सम्यक  कलंबे को कुचल दिया था. जिसमे उसकी दर्दनाक मौत हो गई थी ,तो वही उसका भाई इसमें घायल हो गया था. इस accident के बाद  Marie Poussepin  Academy  स्कूल पर भी लापरवाही के आरोप लग रहे है. सम्यक के मामा कैलाश वाहने जो की मानकापुर में रहते है, उन्होंने ‘ Nation Next ‘ को जानकारी देते हुए बताया की स्कूल buses और दूसरी गाड़ियों के लिए बिलकुल पार्किंग की व्यवस्था नहीं है, सभी गाड़ियां सड़क पर खड़ी रहती है.उन्होंने बताया की कई सालों से स्कूल के सामने की सड़क खराब है, जिसके कारण गाड़ियों  से स्कूल पहुंचने पर काफी Problems होती है. इसके बाद Marie Poussepin  Academy  school की उन्होंने सबसे बड़ी लापरवाही यह बताई कि स्कूल में कोई भी security guard नहीं है. gate पर खड़े रहनेवाला सिर्फ एक watchmen है. जबकि स्कूल में 2 हजार के करीब students है. बच्चे के मामा के मुताबिक़ अगर school में school की छुट्टी होने के बाद school vans को और बच्चों को संभालनेवाले security guards होते तो शायद यह accident को रोका जा सकता था. उनका कहना है  कि स्कूल के खिलाफ सभी students के parents में काफी गुस्सा है.  कैलाश का यह भी कहना है कि स्कूल principal से हमने system improve करने के लिए कहां तांकि ऐसा हादसा दोबारा न हो. लेकिन उन्होंने इसको लेकर किसी भी तरह का कोई positive response नहीं दिया. इस हादसे में जब accident में pole गिरा था तो उनके दूसरे भांजे को भी मार लगा था और उसे करंट भी लगा था. शनिवार को स्कूल के खिलाफ  guardians के protest करने की जानकारी भी मिली है.

2. नागपूर शहर में गुरुवार 24 नवंबर को एक मर्डर की घटना हुई है. जिसमें आरोपी ने दिनदहाड़े अपने ही साथी को चाक़ू से कई बार वार करके उसका मर्डर कर दिया. दिनदहाड़े गड्डीगोदाम चौक में हुए इस murder के कारण वहां के लोगों में डर का माहौल है. हालांकि कुछ ही देर में पुलिस ने आरोपी को  थोड़ी ही दूर रेलवे की पटरी के पास से गिरफ्तार कर लिया. आरोपी का नाम सत्येंद्र यादव है और मरने वाले उसके ही साथी का नाम  प्रणय राजेश पात्रे है. पुलिस की जानकारी के मुताबिक़  आरोपी सत्येंद्र और मरनेवाला प्रणय  friends थे. प्रणय  कबाड़ी का काम करता था और आरोपी दूध बेचने का काम करता है. दोनों पर criminal cases दर्ज है. गुरुवार सुबह 11 बजे के करीबप्रणय   शराब के नशे में था और उसने सत्येंद्र को गड्डीगोदाम के saint michael school के पास बुलाया. इसके बाद दोनों फिर शराब पीने निकल गए. इसके बाद दोनों फिर गड्डीगोदाम चौक पहुंचे.इस दौरान प्रणय ने सत्येंद्र की बहन के बारे में कुछ गलत बातें कही और उसको गाली दी. इससे गुस्साएं आरोपी सत्येंद्र ने उसके पास रखे हुए चाक़ू से प्रणय  के पेट में वार किया. इसके बाद गले पर वार किया, इससे प्रणय  काफी injured हो गया, सत्येंद्र यही नहीं रुका, उसने उसके पैर पकडे और उसे घसीटकर ले गया और उसको मारने लगा, इससे प्रणय की मौत हो गई. इस murder के समय  वहां पर काफी public थी.  पुलिस को इस murder की जानकारी मिलते ही पुलिस वहां पहुंची, पुलिस को पता चला की आरोपी गड्डीगोदाम के सामने ही गुरुद्वारा की तरफ गया है. पुलिस ने वहां पहुंचकर कर आरोपी को गिरफतार कर लिया.

3. 24 नवंबर गुरुवार को नागपूर के aims हॉस्पिटल में एक ragging का मामला सामने  आया है. जिसमें जानकारी यह है कि 7 students को 6 महीने के लिए suspend किया गया है. जानकारी के मुताबिक़ इन students ने  रात में अपने रूम में first year के students को बुलाया था. इसके बाद इनका  झगड़ा हो गया था. इस पुरे मामले के बाद dean ने इन्हें suspend किया है . इस मामले में aims की director डॉ. विभा दत्ता ने कहा कि institute में discipline के साथ rules का पालन होना चाहिए. students को डॉक्टर बनने के साथ -साथ एक अच्छा इंसान बनाना भी जिम्मेदारी है. इस मामले की investigation के लिए commitie भी बनाई गई है. याद रहे की  डॉ. पायल तड़वी ने seniors से परेशान होकर 2019 में suicide किया था, यह मामला पूरे राज्य में उस समय गूंजा था, इस मामले में 3 lady doctors jail भी गई थी. ragging जैसे मामले education sector में न हो, इसके लिए सख्त कार्रवाई करने की जरुरत है.

4. शहर के doctor के साथ -साथ कई बड़े लोगों के साथ करोडो रुपए का fraud  करनेवाले अजित पारसे से अब पूछताछ हो सकती है. अब तक पारसे बीमार होने के कारण बिमारी से बचता रहा. नागपूर के police commisioner अमितेश कुमार ने बताया की पारसे का इलाज करनेवाले doctors ने पूछताछ करने के लिए उसे  fit बताया है. कुछ हफ्ते पहले ही पारसे के खिलाफ और एक complaint की गई थी. याद रहे कि पारसे शहर में social media expert के नाम से जाना जाता था. पारसे का भांडाफोड़ तब हुआ जब doctor राजेश मुरकुटे ने उसके खिलाफ complaint दर्ज की थी, उसके बाद उसके राज खुलते गए. जानकारी के अनुसार पुलिस ने उसको अब तक गिरफ्तार नहीं करने की वजह से भी शहर में चर्चाएं हो रही थी. पारसे  पिछले डेढ़ महीने से हॉस्पिटल में इलाज करा रहा है. अब जानकारी यह है कि उसकी physical रिपोर्ट पुलिस को मिल चुकी है और ऐसे में अब उससे पूछताछ हो सकती है.

5. शहर में कचरा फेकने को लेकर आम लोग ही नहीं बड़े -बड़े hospital भी लापरवाही कर रहे है. नागपूर nmc की nds की टीम लगातार इनपर कार्रवाई भी कर रही है. ऐसा ही एक मामला गुरुवार 24 नवंबर को सीताबर्डी में सामने आया है. यहां के platina hospital पर 50 हजार रुपए का fine लगाया गया है. दरअसल hospital की ओर से medical waste को normal कचरे में फेंका गया था. इसलिए यह कार्रवाई की गई है. hospital से निकलने वाले bandages, injections, दवाईयों के  wrappers, dripping pipes, दवा की बोतल जैसा हॉस्पिटल से बाहर फेंका जाने वाला हर सामान मेडिकल वेस्ट होता है. यह काफी खतरनाक होता है. इसमें लापरवाही करने से दुसरो को भी infection हो सकता है. खासकर कचरा फेंकनेवाले nmc कर्मचारियों को.

Script by – Shamanand Tayde

Also Watch: November 24, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Continue Reading

Nagpur News

Nagpur: Speeding car runs over crowd killing cop, injuring 7 others

Published

on

By

Juhi Kochar | Nagpur

Representative Image

Kamptee resident Parseoni Police Station officer Jayant Vishnu Sherekar (42) was killed and seven others were hurt when a speeding car lost control and crashed into a crowd of people standing near an accident scene in Nagpur on Wednesday November 23 night near Naya Kund.

Police claim that a carelessly driven truck struck a car travelling in the opposite way. Vikram Singh Bais, the car’s driver, was stuck inside the crumpled car with blood gushing out from his body. To look after this incident, Sherekar and other Parseoni police officers sped over to the scene. A sizable crowd had formed at the scene of the collision, halting traffic.

According to the police, a second automobile entered the scene at a high rate of speed, slammed into bystanders who were standing on the road, and then sped off.

Seven other people, including officer Sherekar, suffered severe injuries. They claim that the policeman was confirmed dead by doctors after being taken to the hospital in a hurry.

The automobile that struck the officer and other bystanders was eventually impounded by the police, but the driver got away.

Also Read: Kejriwal accuses PM Modi of waving off huge loan defaulters ‘behind closed doors’

Continue Reading
Advertisement
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x