Track Nation Next on Social Media

Uncategorized Bollywood

I married at the peak of my career, but my work has nothing to do with my marriage and baby: Alia Bhatt

Alia Bhatt and Ranbir Kapoor married in April, 2022 and were blessed with a baby girl, Raha in November 2022. But Alia looks happier than ever!

Alia Bhatt Kapoor

Alia Bhatt and Ranbir Kapoor married in April, 2022 and were blessed with a baby girl, Raha in Nov, 2022. And the actress looks happier than ever! But having a kid at the peak of her career is a question raised by many. And Alia doesn’t seem to regret her decision of having Raha when she’s riding high in her career. Rather she believes in going with the flow. 

The actress opened up recently about life post marriage and what keeps her driving. “I listen to my heart and go with the flow. And I believe, what works for me may not work for someone else. And you can’t plan things, rather life plans for you and all one can do is just follow. Be it my career or personal life, I let my heart decide my future,” she said and added, “I agree that I got married at the peak of my career and had a baby very soon. But my work has nothing to do with my marriage and baby. And if it does, I don’t care. Whatever decisions I have taken, it’s the best for me. I’ve never been so happy in my life.” 

Alia, who’s enjoying motherhood to the core right now, expressed, “I believe that if you’re a good actor and believe in yourself, work will come to you, be it before or after the marriage. If it doesn’t come to you, then so be it, maybe it’s not your time. I don’t want to stress about it much. I value my work and also my life beyond work. All I want to do is strike a balance between the two.”

Also read: Dad was reluctant to cast me in ‘Kaho Naa Pyaar Hai’; he told me to find work by myself: Hrithik

 

Uncategorized

December 28, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Published

on

By

Avani Arya | Reporter : Shamanand Tayde | Nagpur

Nation Next Nagpur Bulletin brings to you a summary of major news events that took place in Nagpur on December 28, 2022.

1. बुधवार 28 दिसंबर को विधानभवन में  Maharashtra Lokayukta Bill 2022 majority से pass हो गया. Lokayukta Act को विधानमंडल में पेश किया गया था. deputy chief minister देवेंद्र फडणवीस ने आज Bill passed होने के बाद सभी का आभार व्यक्त किया. पहले के law में Anti-corruption Act नहीं था. फडणवीस ने इस दौरान कहा कि मौजूदा कानून में यह act लाया गया है. अब cm भी Lokayukta के दायरे में आएंगे.30 जनवरी साल 2019 में लोकायुक्त कानून को लेकर अन्ना हजारे ने राज्य में भाजपा-शिवसेना सरकार के खिलाफ रालेगणसिद्धि में अनशन भी किया था. राज्य के कई कार्यकर्ताओं ने तहसील और district लेवल पर यह आंदोलन किया था. उस दौरान cm देवेंद्र फडणवीस ने यह  कानून बनाने का आश्वासन दिया था.अन्ना हजारे ने उस दौरान यह भी भरोसा जताया था कि महाराष्ट्र लोकायुक्त act  passed होने के बाद, राज्य में corruption बंद होगा और महाराष्ट्र corruption free हो सकता है.

2. बुधवार 28 दिसंबर की सुबह समृद्धि expressway पर फिर एक बार accident हुआ है. जिसमे 2 लोगों की मौत हो गई. मरनेवालों में एक बच्ची की भी मौत हुई है. तो वही 2 लोग serious injured हुए है. यह accident वाशिम के कारंजा के पास हुआ है. मरनेवालों में नागपुर की महिला और उनकी 4 साल की बच्ची शामिल है. जानकारी के मुताबिक़ फॅमिली मुंबई से नागपुर आ रही थी . वाशिम के कारंजा के पास पहुंचते ही उनकी गाडी out of control हो गई और इसका accident हो गया. बताया जा रहा है कि accident इतना भयानक था कि बच्ची accident होते ही कार से उछलकर 200 फीट नीचे गिर गई. इनमें injured लोगों को अकोला के hospital refer कर दिया गया है. जानकारी के मुताबिक़ यह सभी लोग नागपुर के रहनेवाले थे.

3. राज्य के former home minister अनिल देशमुख को जमानत मिलने के बाद बुधवार 28 दिसंबर को वे जेल से बाहर आए. उनके आने की ख़ुशी में राष्ट्रवादी कांग्रेस के समर्थकों ने नागपुर मॉरेस कॉलेज चौक पर बैंड बाजा बजाकर,पटाखे फोड़कर ख़ुशी जाहिर की. इस समय महिला कार्यकर्ताओ ने भी हाथों में बैनर लेकर अपनी ख़ुशी जाहिर की.  ” देखो देखो कौन आया ‘ शेर आया, शेर आया ‘ जैसे नारे भी इस समय लगाए  गए. याद रहे कि पिछले साल से देशमुख मुंबई के आर्थर रोड जेल में बंद थे. उनके बाहर आने से उनके समर्थकों में जल्लोष का माहौल बन गया है.

4. deputy cm देवेंद्र फडणवीस ने आज बुधवार 29 दिसंबर को opposition  पर महापुरुषों और संतो को लेकर निशाना साधा, फडणवीस ने कहा कि शिवसेना के नेता ने संजय राऊत की मां की तुलना मां जिजाऊ से की थी , उन्होंने कहा था कि उन्होंने शिव जैसे बेटे को जन्म दिया, ऐसी तुलना होनी चाहिए क्या, ऐसा सवाल उन्होंने हॉल में किया, इसके साथ ही उन्होंने mla अमोल मिटकरी पर बोलते हुए कहा कि मिटकरी ने कहां था शरद पवार हमारे विट्ठल है, शरद पवार भले ही बड़े नेता है, लेकिन उनकी तुलना विट्ठल से नहीं की जा सकती.  फडणवीस ने आगे कहा कि वारकरी संप्रदाय ने casteless वारकरी समाज बनाया, संत चोखोबा और ज्ञानेश्वर मावली भी है , लेकिन इनकी कोई  जाति नहीं पूछता, तुकाराम महाराज की गाथा को संजोनेवाले संत जगनाडे महाराज तुकाराम महाराज के समाज के नहीं है, लेकिन आज वो भी समाज में बंटे हुए, इस पर कोई कुछ क्यों नहीं कहता, यह सवाल भी उन्होंने सदन में उठाया.

5. पिछले एक हफ्ते से कृषि मंत्री अब्दुल सत्तार पर ग़ैरान land distribution  को लेकर आरोप लग रहे थे, इस मामले में सत्तार का resignation भी मांगा जा रहा था. आज बुधवार 28 दिसंबर को कृषि मंत्री अब्दुल सत्तार ने विधानसभा में बताया कि गैरान land का distribution rules के हिसाब से ही किया गया है. इस दौरान सत्तार ने इस मामले में request दी थी.  इस बारे में मंत्री सत्तार ने कहां की जो भी decision कोर्ट देगा उसे वो accept करेंगे. सत्तार पर ये आरोप लगाए जा रहे थे कि उन्होंने वाशिम जिले की 150 करोड़ रुपए की 37 एकर ग़ैरान जमींन किसी व्यक्ति को दी है. इसी को लेकर पिछले कई दिनों से opposition और ruling नेताओ में विरोध  चल रहा है.

6. अकोला जिले के बालापुर विधानसभा क्षेत्र के mla  नितिन देशमुख और उनके समर्थकों के खिलाफ सदर पुलिस ने  मामला दर्ज किया है.मंगलवार 27 दिसंबर की शाम को  रवि भवन में पुलिस के साथ धक्का-मुक्की और गाली-गलौज का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस की fir के मुताबिक़  मंगलवार 27 दिसंबर को शाम करीब 6  बजे mla नितिन देशमुख अपने कुछ समर्थकों  के साथ सफेद रंग की कार से रविभवन आए थे. इस समय ड्यूटी पर तैनात securties  हर आने वाले के पास मौजूद सामान की जांच कर रहे थे. इस समय देशमुख के साथ आए लोगों के pass देखने के लिए securities ने रोका तो mla देशमुख ने अपना बैच दिखाते हुए पुलिस से कहां की ‘ यह क्या है पता है क्या ‘ इसके साथ ही mla के समर्थकों की ओर से duty कर रहे पुलिस के साथ गालीगलौज और धक्का-बुक्की भी की . 

7. विधानमंडल के winter session में बुधवार यानी आज 28 दिसंबर को अलग -अलग parties और संघटन के 11 मोर्चे पहुंचे. इनमें भारतीय मजदुर संघ, rte foundation india नागपुर, all india trade union कांग्रेस , Veterinary, Animal Husbandry और  Dairy Business Management Services ,महाराष्ट्र राज्य कोतवाल संघटन,गुरुदेव युवा संघ,शिवसेवक समिति,भूमि मुक्ति मोर्चा,मानवी हक्क अभियान शामिल थे.अपनी मांगो को लेकर हजारों की तादाद में आज protestors ने protest किया.

Script by – Shamanand Tayde

Also Watch: December 27, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Continue Reading

Uncategorized

December 23, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Published

on

By

Avani Arya | Reporter : Shamanand Tayde | Nagpur

Nation Next Nagpur Bulletin brings to you a summary of major news events that took place in Nagpur on December 23, 2022.

1. शुक्रवार 23 दिसंबर को नागपुर के विधानभवन के gate के पास एक महिला ने खुद पर केरोसिन डालकर suicide करने की कोशिश की, लेकिन समय रहते पुलिस और securities ने महिला को रोक लिया, जिसके कारण आज एक बड़ा हादसा होने से बच गया. जानकारी के अनुसार इस महिला का नाम कविता चव्हाण है और वो सोलापुर की रहनेवाली है. बताया जा रहा है कि महिला ने केरोसिन डालने से पहले कहा कि आप शिवाजी महाराज के नाम पर राजनीती करते हो, वारकरी संप्रदाय का अपमान करते हो, आपके अधिवेशन में पुलिस को खाना नहीं मिलता है, आप के पास कोई भी मुद्दा बाकी नहीं है, और इसके बाद महिला ने शिवाजी महाराज की जय, बाबासाहेब आंबेडकर की जय की घोषणा देते हुए बॉडी पर केरोसिन डाल लिया. महिला के मुताबिक़ लगातार संतो का और महापुरुषों का अपमान नेताओ की ओर से किया जा रहा है, लेकिन किसी भी तरह की कोई भी कार्रवाई इनपर नहीं की जा रही है. महिला को सीताबर्डी पुलिस स्टेशन लेकर जाया गया है.

2. गुरुवार 22 दिसंबर को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के mla जयंत पाटिल को इस पुरे winter session के लिए suspend किया गया था. जिसके विरोध में महाविकास आघाडी के नेताओ ने आज शुक्रवार 23 दिसंबर को assembly hall के बाहर सीढ़ियों पर आंदोलन किया. कल पाटिल के supension के बाद ही opposition के नेताओ ने इसका विरोध किया था और उसी दौरान assembly के काम पर बहिष्कार डालने का decision लिया गया था. अजित पवार के नेतृत्व में यह आंदोलन आज किया गया.

3. नागपुर winter session में पहले दिन से ही कई मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने का काम opposition नेता कर रहे है. इसके साथ ही nit के कथित जमींन घोटाले पर से cm एकनाथ शिंदे का resignation भी माँगा जा रहा है. opposition का कहना है कि नगरविकास मंत्री रहते हुए cm ने nit की 86 करोड़ की जमींन builder को सिर्फ 2 करोड़ रुपए में दी थी. इस मामले में अब former deputy chief minister अजित पवार ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि जिस जमींन को लेकर cm एकनाथ शिंदे पर आरोप हो रहे है , वो जमींन घोटाला सबसे पहले भाजपा नेताओ ने ही सामने लाया था, पवार ने आगे कहां कि कुछ लोगों ने pil दाखिल की थी. इसके साथ ही उन्होंने जयंत पाटिल के suspension पर भी comment करते हुए कहां कि ruling पार्टी की 6 महीने से मनमानी चल रही है. ruling पार्टी की complaints पर ध्यान दिया जाता है तो वही opposition पार्टियों की complaints को दबाया जा रहा है. पवार ने बताया की जयंत पाटिल ने अपशब्द नहीं कहे थे. जयंत पाटिल पर की गई कार्रवाई गलत है, ऐसा भी पवार ने कहां.

4. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे इस समय नागपुर दौरे पर है, वे मनसे के post appointment के programme के लिए नागपुर पहुंचे थे. इस समय उन्होंने नए पदाधिकारियों को अपने हाथों से appointment letter भी दिए. इस दौरान programme में राज ठाकरे ने कार्यकर्ताओ से यह भी कहां कि निराश मत होईये, future में मनसे की सरकार होगी. राज ठाकरे के इस दौरे में एक और बात ख़ास थी वो यह है उन्होंने विधानभवन पहुंचकर राज्य के cm एकनाथ शिंदे से उनके cabin में जाकर मुलाक़ात की. पिछले कुछ दिनों से देखने में आया है कि राज ठाकरे और एकनाथ शिंदे में काफी नजदीकियां बढ़ी है. इस मुलाक़ात के बाद राजनैतिक गलियारों में फिर चर्चाएं शुरू हो गई है.

5. Nagpur District Cycle Polo Association की ओर से National Sub-Junior, Junior, और Senior Cycle Polo Championship Tournament का आयोजन किया गया था, लेकिन इस tournament में शामिल होने केरल से आयी 10 साल की बच्ची Fathima Nida Shihabuddin की खेलने से पहले ही तबियत खराब हुई और हॉस्पिटल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. जानकारी के अनुसार बच्ची की मौत के बाद भी tournament का inauguration धूम धाम से किया गया. फातिमा केरल के Alappuzha जिले की रहनेवाली थी. वो बुधवार 21 दिसंबर को नागपुर Kerala Cycle Polo Association के 24 मेंम्बर्स के साथ पहुंची थी. बुधवार की रात फातिमा को vomitting होनी शुरू हुई और सुबह तक जब वो नहीं रुकी तो उसे कोच ने पास के ही कांग्रेस नगर के श्रीकृष्णा hospital में admit किया. इस समय doctors ने उसका इलाज करना शुरू किया, उसे injection दिया गया, इसके बाद फातिमा ने हाथ में दर्द होने की कंप्लेंट की, और इसके तुरंत बाद उसकी नाक से खून बहना शुरू हो गया और देखते ही देखते वो गिर पड़ी. इसके बाद इस बच्ची को cardiac aarest आया, जिससे उसकी मौत हो गई. इस incident के बाद हॉस्पिटल के doctors पर भी लापरवाही के allegations लग रहे है. तो वही hospital के director Dr Mahesh Fulwani का कहना है की उसे वही इंजेक्शन दिया गया था, जो common तौर पर vomittiong होने पर दिया जाता है. जानकारी यह भी सामने आयी है कि national federation की ओर से players को neglect किया गया. congress ने इस incident को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और सही investigation की मांग भी की है. इस दौरान कांग्रेस ने केरल की left government
पर भी निशाना साधा है. कर्नाटक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुधाकरन ने आरोप लगाया कि साइकिल पोलो के लिए national federation ने players को लेकर बड़ी लापरवाही की है. players के लिए रहने और खाने की व्यवस्था भी नहीं की गई थी. इसी बीच केरल के cm Pinarayi Vijayan ने बच्ची की मौत पर शोक जताया है और investigation करने की जानकारी भी दी है.

6. आज शुक्रवार 23 दिसंबर को शहर में 13 मोर्चो ने अपनी मांगो लेकर protest किया. आम आदमी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रीय टैक्सी चालक मालक union, महाराष्ट्र लढा पत्रकार संघटना, शिंपी समाज संघर्ष समिति, बहुजन republican socialist पार्टी, मेस्टा, आंबेडकरवादी संघर्ष पार्टी, राष्ट्रीय विकलांग संस्था, नागपुर हॉकर्स यूनियन, महाराष्ट्र राज्य शिक्षक परिषद् और महाराष्ट्र विज कामगार engineers अधिकारी संघर्ष ने आज शहर में प्रोटेस्ट किया और अपनी मांगे सरकार तक पहुंचाई.

7. अमरावती की mp नवनीत राणा की मुश्किलें बढ़ने के आसार है. fake caste certificate के मामले में शिवड़ी court ने पुलिस को कड़े order जारी किए हैं. court ने कहा है कि non bailable warrant
के आधार पर पुलिस जल्द से जल्द action ले. इस मामले में mp नवनीत राणा के पिता हरभजन सिंह कुंडलेश को भी आरोपी बनाया गया है. कोर्ट ने पुलिस को आदेश देते हुए कहा है कि इस मामले में उनके पिता हरभजन सिंह कुंडलेश पर कार्रवाई की जाए. नवनीत राणा से संबंधित fake caste certificate मामले में अगली सुनवाई 28 दिसंबर को होगी. इससे पहले Bombay Sessions Court ने उनकी application को reject कर दिया था. याद रहे की नवनीत राणा ने अपने election affidavit में fake caste certificate देने का आरोप शिवसेना के अमरावती के mp आनंदराव अडसूल ने लगाया था और इसकी complaint भी की थी. इस मामले में Bombay High Court ने जून 2021 में नवनीत राणा का caste certificate cancel कर दिया था. कोर्ट ने इस दौरान कहा था कि इस caste certificate को forged documents का use करके धोखाधड़ी से लिया गया था. हाईकोर्ट ने उनके ऊपर 2 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था.

Script by – Shamanand Tayde

Also Watch: December 22, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Continue Reading

Uncategorized

I don’t take rejections seriously, neither do I think I’m a bad actor: Renuka Shahane

Published

on

By

Elina Nayak | India

Renuka Shahane

Renuka Shahane is receiving accolades for her comic performance in Vicky Kaushal starrer ‘Govinda Naam Mera’. The actress, who essays the role of Vicky Kaushal’s mom, reveals of getting rejected at the auditions these days. 

“I get rejected after the auditions, it happens a lot with me nowadays. I don’t understand the funda of a casting director explaining to me the character sketch. Rather, I prefer the director doing that job. So, I believe that’s one of the reasons why I can’t clear these auditions,” revealed Renuka. 

The ‘Hum Aapke Hain Koun!’ actress added, “I don’t think I can give my best in such types of auditions. Having said that, I don’t take the rejections too seriously. Neither do I think I’m a bad actor. See, even I’m a director and I search for different actors. So, I understand that it’s not just about the acting, the actor may not be close to the character.”

Talking about her current film ‘Govinda Naam Mera’, Renuka said, “Govinda.. is like a debut film for me. It’s been seven years, but I’ve never done something like this before. So, it was like a test for me. I wasn’t sure if it would work for me or not as an actor. I was very excited about it.”

Also read: I’m not aware of pay disparity in Bollywood much, but I’m happy with my pay package: Vidya Balan

 
Continue Reading
Advertisement
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x