Track Nation Next on Social Media

Nagpur News

December 26, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Nation Next Nagpur Bulletin brings to you a summary of major news events that took place in Nagpur on December 26, 2022.

1. सोमवार 26 दिसंबर को नागपुर के विधानभवन में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पहुंचे, उनके साथ इस दौरान उनके ख़ास mp संजय राऊत भी मौजूद थे. कर्नाटक -महाराष्ट्र बॉर्डर का dispute जो काफी दिनों से चल रहा है, उसका भी मुद्दा आज उद्धव ठाकरे ने विधान परिषद में उठाया, उन्होंने कहा की कर्नाटक की सरकार का कहना है कि महाराष्ट्र को एक इंच भी जमींन नहीं देंगे, तो क्या हम ऐसा नहीं बोल  सकते, हम ऐसा stand क्यों नहीं ले सके.इसके बाद उद्धव ने आगे कहा कि कर्नाटक,और महाराष्ट्र में एक ही पार्टी की सरकार है. दोनों cm pm नरेंद्र मोदी को अपना नेता मानते है, राज्य के हमारे cm दिल्ली जाते है तो क्या वे इस बारे में बात करने जा रहे है, ऐसा सवाल भी उद्धव ने परिषद् में उठाया. 

2. winter session के dusre हफ्ते के पहले ही दिन यानी आज सोमवार 26 दिसंबर को opposition के नेताओ ने सरकार के खिलाफ protest किया और नारेबाजी की. इस समय ed सरकार हाय-हाय , resignation देने, विदर्भ के oranges को भाव देने, धान की फसल के लिए किसानों को बोनस देने के लिए सीढ़ियों के पास नारेबाजी की गई. इस समय कर्नाटक की बोम्मई सरकार के खिलाफ भी नारेबाजी की गई. पिछले एक हफ्ते से जमींन घोटाले पर जो नारेबाजी हो रही थी, उसपर भी आज खोके दो ,जमींन लो ऐसी नारेबाजी की गई. इस समय protest में अजित पवार,अंबादास दानवे,नाना पटोले,आदित्य ठाकरे,रोहित पवार,सुनील राऊत,भास्कर जाधव,विकास ठाकरे और हसन मुश्रीफ शामिल थे.

3. कानून में भले ही rape के crime को लेकर सख्त सजा दी गई हो, लेकिन कई Perverted mentality के लोग आज भी society में रहनेवाली छोटी -छोटी बच्चियों को अपनी हवस का शिकार बना रहे है. ऐसा ही एक cruel incident नागपुर के वाडी में हुआ है. शनिवार दोपहर को वाडी एरिया में एक 10 साल की बच्ची के साथ rape का मामला सामने आया है. इस घटना में  बस्ती में ही रहने वाले 55 साल के आरोपी चरणदास मेश्राम को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.पुलिस की जानकारी के मुताबिक़ पीड़ित बच्ची के माता -पिता मजदूरी का काम करते है और वो काम पर गए थे. बच्ची जब स्कुल से घर में आयी तो वो noodles लाने के लिए ठेले पर  गई थी, इस दौरान वहांपर आरोपी मेश्राम भी था, बच्ची उसको पहचानती थी. मेश्राम बच्ची को noodles खिलाने का लालच देकर एक सुनसान इलाके में लेकर गया और उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद जब बच्ची रोते हुए घर आ रही थी तो पडोसी महिला को शक हुआ, उसने तुरंत बच्ची की मां को इसकी जानकारी फ़ोन पर दी.  घर पहुंचने पर माता  पिता को बच्ची ने पूरी बात बताई, बच्ची की बात सुनकर मातापिता शॉक हो गए. इस घटना से गुस्साए बस्ती के लोगों ने भी आरोपी की पिटाई कर दी.  बच्ची के फॅमिलीवालो ने  वाड़ी पुलिस स्टेशन पहुंचकर fir दर्ज कराई, इस मामले में पोक्सो act के तहत आरोपी को गिरफ्तार किया गया है. रविवार को आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया था. उसको रिमांड पर लिया गया है.

4. सोमवार 26 दिसंबर को विधानसभा winter session के पहले ही दिन opposition नेताओ ने सरकार को घेरने का काम किया. former deputy chief minister अजित पवार ने शिंदे सरकार के मंत्री अब्दुल सत्तार पर आरोप लगाते हुए कहा कि अभी की सरकार में Minister of Agriculture और पिछली सरकार में revenue state minister  ने Gayran land allotment करने का decision लिया था, जिसमें उन्होंने अपनी post  का misuse किया था. पवार ने कहा की सत्तार का  यह decision पूरी तरह से illegal था. पवार ने कहा की high court की नागपुर बेंच ने इस पर critical inspection लिया है. सत्तार के खिलाफ witness भी मौजूद है. district court का order पता होने के बावजूद सत्तार ने मंत्री रहते हुए यह निर्णय लिया था. उन्होंने कहा की इस decision को लेकर collector revenue के additional secreatary को letter भी दिया था. लेकिन इसपर अब तक किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं हुई है, पवार ने इस मामले में अब्दुल सत्तार का resignation लेने की मांग सरकार से की है.

5. नागपुर शहर में जिन्होंने property tax नहीं भरा है, उनको दिसंबर के बाद हर महीने 2 % fine लगेगा.  नागपुर शहर में 75,596 खाली प्लॉट पर 286 करोड़ रुपए का property tax बाकी है.  यह property tax नहीं  भरनेवाले लोगों की property का  auction करने की तैयारी nmc ने कर ली है.  बताया जा रहा कि plot owners  ने registry तो  कर ली है, लेकिन nmc में registration नहीं करवाया है. इनके प्लॉट record में नहीं होने के कारण इसकी वसूली नहीं हो रही है. ऐसे plots का survey किया गया था और पता चला था कि इनपर 284 .66 करोड़ रुपए बाकी है. ऐसे में अब muncipal commisioner राधाकृष्ण बी. के instructions पर recovery  शुरू की गई है. खुले plots की जब्ती और warrant की कार्रवाई शुरू की गई है. nmc नोटिस देकर भी property owner को जानकारी दे रही है, लेकिन जो नहीं भर रहे है उनपर यह कार्रवाई की जा रही है.

6. आज यानी सोमवार 26 दिसंबर को नागपुर के विधानभवन पर अपनी मांगो को लेकर 16 मोर्चे पहुंचे. जिनमें अकोला और बुलढाणा के बिल्डिंग, पेंटर मजदुरो का मोर्चा, महाराष्ट्र राज्य अनुदानित वसतिगृह कर्मचारी संघटन, पुलिस बॉयज association, ग्राम रोजगार सेवक वोकेशनल टीचर्स association, टेक्निकल कामगार union electric field , संयुक्त ऑल इंडिया जनआंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा, महाराष्ट्र राज्य किसान सभा,भारतीय भोई विकास मंडल, castribe राज्य परिवहन कर्मचारी संघटन  अकोला का बहुजन समाज संघटन ,आंबेडकरी विचार मोर्चा,विदर्भ आदिवासी विकास संघटन,राष्ट्रीय किसान बहुजन पार्टी और यंग चांदा ब्रिगेड के लोगों ने आज protest किया , 16 मोर्चे होने के कारण पुलिस को भी आज काफी अलर्ट रहना पड़ा.

7. कोरोना को लेकर एक बार फिर लोगों में डर फ़ैल रहा है. 2 साल पहले  covid -19 से बचने के लिए लोगों ने  मास्क पहनना शुरू किया था. मास्क को ही लेकर नागपुर के कलेक्टर विपिन इटनकर ने एक आर्डर जारी किया है, जिसमें government और semi government के साथ -साथ दूसरे institutes में मास्क पहनने के लिए कहां गया है. हालांकि मास्क  strictly नहीं किया गया है. पिछले कुछ दिनों से  लगातार चीन में कोरोना  patients के बढ़ने की news के कारण ही central government ने भी guidelines जारी की थी.

Script by – Shamanand Tayde

Also Watch: December 24, 2022 | Nagpur News | नागपुर समाचार | Hindi News Bulletin | Nation Next

Sports

Virat Kohli complains of losing his unboxed phone in Nagpur

Published

on

By

Radhika Dhawad | Nagpur

Former Indian skipper Virat Kohli took to twitter to inform netizens that he had lost his brand new unboxed phone in Nagpur on Tuesday.

Kohli, who is in the city for first test match against Australia on Thursday,  said, “Nothing beats the sad feeling of losing your new phone without even unboxing it  Has anyone seen it?”

Food delivery app Zomato was quick to respond by asking the ace cricketer to ‘feel free to order an ice cream from his wife and actor Anushka Sharma’s phone.’ 

The tweet read, “feel free to order ice cream from bhabhi’s phone if that will help.” However, many users anticipated Kohli’s tweet to be an advertisement for a brand.

Also read: Anil Deshmukh granted permission to travel outside Mumbai

Continue Reading

Legal

Anil Deshmukh granted permission to travel outside Mumbai

Published

on

By

Radhika Dhawad | Bombuflat
Bombay High Court rejected stay plea filed by CBI paving way for the release of ex-Maharashtra Home Minister Anil Deshmukh.

Ex-Home Ministe Anil Deshmukh on Monday was granted permission to travel outside Mumbai for four weeks by a special court on Monday.

Nationalist Congress Party (NCP) leader and former Home Minister of Maharashtra Anil Deshmukh on Monday was granted permission to travel outside Mumbai for four weeks by a special court on Monday. Deshmukh had sought permission to visit his constituency, which is also his hometown, Nagpur. 

The application was filed by Deshmukh through his lawyer, Inderpal Singh, stating that he is a native of Nagpur with deep family roots in the city apart from being an elected representative of his constituency. 

“The applicant craves a benevolent indulgence of this court to permit him to travel outside Greater Mumbai, including District Nagpur, for a limited duration of about four weeks so as to maintain continuity in his social and family ties and also visit his original and permanent home/constituency,” the plea stated.



The plea further added that “the applicant needs to have due legal consultation with his lawyers in New Delhi for further course of strategy in the present and connected cases.”

Also read: All 31 days in January 2023 in Nagpur observed to be polluted, reveals study

Continue Reading

Governance

Interesting facts you didn’t know about Union Budget | Must Read

Published

on

By

Radhika Dhawad | Bombuflat

 

Finance Minister Nirmala Sitharaman presented Union Budget when she presented financial statements and tax proposals for fiscal year 2023-24.

Finance Minister Nirmala Sitharaman presented her fifth straight Union Budget when she presented financial statements and tax proposals for fiscal year 2023-24.

Here are some lesser known facts about Union Budget…

The British government presented India’s first ever Union Budget on April 7, 1860.

The first budget of independent India was presented by country’s first Finance Minister RK Shanmukham Chetty on November 26, 1947.

Even though traditionally, the finance ministers present the budget, Jawaharlal Nehru, Indira Gandhi and Rajiv Gandhi are the only Prime Ministers to have presented the Union Budget instead of Finance Ministers.

Until 1955, the Union Budget was presented in English. However, the Congress government then decided to print the Budget papers in both Hindi and English.

In 2019, Sitharaman became the second woman to table the budget after Indira Gandhi who presented the budget for the year 1970-71.

Earlier, the government tabled the rail budget separately for 92 years but since 2017, the rail budget was merged with the Union Budget.

Until 1999, the government tabled the Union Budget at 5 pm on the last working day of February as per British era practice but 

former Finance Minister Yashwant Sinha changed the timing to 11 am. Years after, late Finance Minister Arun Jaitely changed the budget presentation to February 1. 

There’s a customary event called the ‘halwa ceremony’ that is held every year ahead of the Union Budget. It is considered as a gesture of appreciation for all people who have worked on the Union Budget. 

To ensure the secrecy of the budget document, a lock-in process is followed – in which all the officials involved 

in preparing the Budget come out of Parliament’s North Block only after the Finance Minister has presented the budget.

In 2021, Sitharaman became the first to table paperless Union Budget.

Former Prime Minister Moraraji Desai holds the record of presenting 10 budgets as finance minister, which is the maximum so far.

Also read: Not a populist but a fiscal consolidation budget: CAMIT Chief Dr Dipen Agrawal

Watch the full video here:

Continue Reading
Advertisement
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x